जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट कतने दिन बाद आता है

After how many days the result of Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam comes

JNVST RESULT 2022 : देशभर में लाखों बच्चों ने जवाहर नवोदय विद्यालय कक्षा 6th में प्रवेश प्राप्त करने के लिए 30 अप्रैल 2022 को आयोजित अखिल भारतीय जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में अपनी किस्मत आजमाया है। इस परीक्षा द्वारा देशभर में संचालित 661 से अधिक जवाहर नवोदय विद्यालयों में 50 हजार से अधिक विद्यार्थियों को कक्षा 6 वीं में प्रवेश का मौका मिलेगा।

परीक्षा के बाद से ही विद्यार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों की निगाहें इस परीक्षा के रिजल्ट पर टिकी रहती है। रिजल्ट के नाम पर आजकल सोशलमीडिया में बहुत से अफवाहें देखने को मिल रही है जिससे भ्रम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। छोटे बच्चे वास्तविकता से बेखबर इन बातों पर विश्वास करके अपने रिजल्ट के लिए परेशान रहता है।

इस लेख के माध्यम से आज प्रमाण के साथ बताने वाले हैं कि परीक्षा होने के बाद इसका परिणाम (रिजल्ट) कितने दिनों के बाद आ सकता है या रिजल्ट आने में कितना समय लग सकता है।

यहाँ पिछले कुछ वर्षों के परीक्षा तिथि तथा परीक्षा परिणाम घोषित होने की तिथियों के बीच कितने समय अंतराल था उसका एक-एक कर जानकारी उपलब्ध कराने जा रहे हैं इस आधार पर हम इस वर्ष परीक्षा परिणाम आने की संभावित तिथि के बारे में भी बात करेंगे।

JNVST 2017-18 :

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा 2017-18 के लिए 08 जनवरी 2017 को परीक्षा आयोजित की गई। इस समय परीक्षा 100 प्रश्नों पर होती थी तथा उत्तर OCR सीट पर 1, 2, 3 या 4 लिखकर भरे जाते थे। इस वर्ष परीक्षा परिणाम 08 जुलाई 2017 को आया था। गौर करें परिणाम आने में 06 माह या लगभग 180 दिन का समय लगा था।

JNVST 2018-19 :

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा के लिए इस वर्ष पहली बार आवेदन की प्रक्रिया आनलाईन की गई किन्तु देशभर में आवेदन स्थिति के अच्छे परिणाम नहीं आने के कारण आवेदन करने की अंतिम तिथि को बार-बार बढ़ाया गया तथा 02 फरवरी 2018 को आयोजित होने वाली परीक्षा की तिथि बढ़ा कर 11 अप्रैल 2018 के लिए निर्धारित किया गया। देशभर में 11 अप्रैल 2018 को परीक्षा आयोजित हुई। इस वर्ष परीक्षा का परिणाम पूरे देशभर के लिए एकसाथ न निकलकर 20 जुलाई से 10 अगस्त 2018 तक अलग-अलग जोन/राज्यों के लिए अलग-अलग तिथियों में रिजल्ट घोषित किए गए। इस वर्ष रिजल्ट आने में 80 से 100 दिन या लगभग 3 माह का समय लगा। यह वर्ष 100 प्रश्नों वाली तथा OCR उत्तर शीट पर परीक्षा का अंतिम वर्ष था।

JNVST 2019-20 :

इस वर्ष पहली बार 80 प्रश्नों वाली पेपर तथा OMR उत्तर शीट पर परीक्षा आयोजित की गई। जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा कक्षा 6th के छोटे-छोटे बच्चे से OMR उत्तर शीट पर परीक्षा आयोजित कराना एक चुनौती से कम नहीं था। इस वर्ष परीक्षा 06 अप्रैल 2019 को पूरे भारत में एक साथ आयोजित की गई तथा OMR पद्धति से परीक्षा होने से मूल्यांकन प्रक्रिया आसान हो गया इस कारण रिजल्ट मात्र 50 दिन बाद 25 मई 2019 को घोषित कर दी गई।

JNVST 2020-21 :

बिना किसी बाधा के 1 जनवरी 2020 को आयोजित की गई जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट COVID-19 महामारी तथा लॉकडाऊन की स्थिति में भी निर्धारित समय पर घोषित कर दी गई। इस समय लॉकडाऊन की वजह से देशभर में विद्यालय, कार्यालय बन्द थे फिर भी परीक्षा के 170 दिन बाद 19 जून 2021 को रिजल्ट घोषित हुआ तथा तय समयानुसार एडमिशन की प्रक्रिया COVID नियमों के अनुसार पूर्ण किया गया। बच्चे नवोदय विद्यालय नहीं पहुंच पाए, आनलाईन कक्षाएँ जारी रही।

JNVST 2021-22 :

यह वर्ष परीक्षाओं के लिए परीक्षा का वर्ष रहा। COVID-19 महामारी तथा लॉकडाऊन की वजह से जवाहर नवोदय विद्यालय की परीक्षा बार-बार टाला गया। अंततः 11 अगस्त 2021 को परीक्षा सम्पन्न होकर पहली बार सबसे कम समय यानी मात्र 47 दिन में 27 सितम्बर 2021 को रिजल्ट घोषित कर दिया गया।

उपर्युक्तानुसार पिछले पांच वर्षों में कभी भी परीक्षा का परिणाम परीक्षा आयोजन की तिथि से 45 दिन के अन्दर घोषित नहीं हुआ है। यदि इस वर्ष भी जल्दी से जल्दी रिजल्ट निकाला जाए तो भी 45 से 60 दिन का समय अवश्य लगेगा। इस हिसाब से भी इस वर्ष का रिजल्ट 15 जून से 30 जून तक आने चाहिए। विभाग को भी 20-30 लाख बच्चों के OMR उत्तर शीट मूल्यांकन कराने, जोनवार, विद्यालय वार रिजल्ट तैयार करने, विभागीय औपचारिकताओं को पूरा करने में समय अवश्य लगेगा। इस तरह 15 जून से पहले रिजल्ट आने की संभावना नहीं है। भ्रामक अफवाहों से बचें।

हमारे निजी अनुमान के अनुसार इस वर्ष का रिजल्ट जुलाई के दूसरे सप्ताह में आ सकती है।

Also Read:-
1. DOCUMENT REQUIRED FOR ADMISSION IN JNV 

2. NAVODAYA CLASS 6TH CUT OFF MARK OF THIS YEAR

3. नवोदय कक्षा 6th 30 अप्रैल 2022 प्रवेश परीक्षा का प्राप्तांक ऐसे चेक करें।

नवोदय विद्यालय प्रवेश 2022-23 के लिए दो नये दस्तावेजों की पड़ सकती है जरूरत | Two new documents may be needed for Navodaya Vidyalaya Admission 2022-23

JNV NEW NOTIFICATION

नवोदय प्रवेश 2022-23 : कई बार विभिन्न स्रोतों से यह खबर मिलती है कि कुछ जवाहर नवोदय विद्यालयों में दूसरे जिलों के अभ्यर्थी प्रवेश प्राप्त कर रहे हैं। इसलिए नवोदय विद्यालय प्रवेश दिशानिर्देशों के अनुसार, नवोदय विद्यालय समिति ने यह निर्णय लिया गया है कि भविष्य में कक्षा VI और IX में प्रवेश के लिए, उसी जिले के पते का प्रमाण प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा, जिस जिले के लिए आवेदक ने आवेदन किया है। सत्र 2022-23 से कक्षा VI तथा IX में अनंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों के प्रवेश की पुष्टि करने से पहले आवासीय स्थिति और कक्षा V तथा VIII अध्ययन स्थिति को सत्यापित कराने निर्देश जारी किए जा सकते हैं।

नवोदय विद्यालय समिति प्रवेश दिशानिर्देशों के अनुसार, जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करने वाला उम्मीदवार उस जिले से होना चाहिए जहाँ जवाहर नवोदय विद्यालय स्थित है और उस जिले के सरकारी/सरकारी सहायता प्राप्त या मान्यता प्राप्त स्कूल में कक्षा V में पढ़ रहा है। इसमें दो शर्तें शामिल हैं –

(1) जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करने वाला अभ्यर्थी उस जिले से होना चाहिए जहाँ जवाहर नवोदय विद्यालय स्थित है।

(2) अभ्यर्थी को उस जिले के सरकारी/ सरकारी सहायता प्राप्त या मान्यता प्राप्त स्कूल में कक्षा V में पढ़ना चाहिए।

बिंदु 2 के संबंध में – संबंधित अधिकारियों से प्रमाण-पत्र की आवश्यकता है।

बिंदु 1 के संदर्भ में – निवास या किसी अन्य सरकारी प्रमाण के लिए जोर देने का निर्णय लिया जा सकता है। माता-पिता का आधिकारिक दस्तावेज। इसके लिए एक ही जिले के आधार कार्ड/किराया अनुबंध/ग्राम प्रधान द्वारा जारी निवास प्रमाण पत्र/बिजली, पानी, गैस आपूर्ति बिल/मतदाता पहचान पत्र आदि जैसे दस्तावेजों पर विचार किया जा सकता है।

उपर्युक्तानुसार यह स्पष्ट है कि 2022-23 में अभ्यर्थी को नवोदय में प्रवेश के लिए दो नये प्रमाण पत्र की जरुरत पड़ सकती है। यह प्रमाण पत्र चयनित अभ्यर्थियों से नवोदय विद्यालय में प्रवेश लेते समय मांगा जाएगा। इसमे पहला है शिक्षा विभाग का प्रमाण पत्र (जो कोई भी नवोदय विद्यालय द्वारा मांगे जाएंगे) प्रस्तुत करना पड़ सकता है तथा दूसरा जिले के अन्तर्गत निवासी होने का माता-पिता का आधिकरिक दस्तावेज जिसका ऊपर जिक्र किया जा चूका है, प्रस्तुत करना होगा। इस प्रकार जिला बदल कर नवोदय में प्रवेश प्राप्त करने वालों पर लगाम लगाया जा सकता है।

हमारी अन्य सेवाएँ –

JNV NEW OMR SHEETCLICK HERE
JNV MODEL PAPERCLICK HERE
JNV 101+ MOCK TESTCLICK HERE
JNV IMP QUESTIONCLICK HERE
JNV OLD PAPERCLICK HERE
Leverage agile frameworks to provide a robust synopsis for high level overviews. Iterative approaches to corporate strategy foster collaborative thinking to further the overall value proposition.
Download Now