NAVODAYA WEB SERIES EPISODE – 20

TRANSLATE IN YOUR LANGUAGE

अनुच्छेद 03

विद्युत शक्ति तो एक प्रकार का कल्पवृक्ष है, जो स्वर्ग से आकर मर्त्यलोक में उपस्थित हो गया। जरा बटन दबा कि सारा नगर विद्युत की विशुद्ध निर्मल ज्योत्स्ना में निमग्न में गया। ''तमसो मा ज्योतिर्गमय'' की प्रार्थना भगवान ने न सही पर विज्ञान देवता न तो स्वीकार कर ली, इतना ही नहीं विद्युत शक्ति आपकी कृतदासी बनकर आपकी सेवा में सतत् तत्पर रहती है। आपके हाथ के संकेत में विलम्ब हो सकता है, दासी को कार्य सम्पादन में कदापि देर नहीं होगी। यह दासी गर्मी में शीतलता प्रदान करती है, तो सर्दी में आपको गर्मी देती हैं। पवनदेव इसी के बल से आपके इच्छानुवर्ती बन गए हैं। अग्निदेव आपके अनुवर है। विद्युत द्वारा मनुष्य के चिर संचित स्वप्न साकार हो गए।

1. 
इस गद्यांश का उपयुक्त शीर्षक होगा-

2. 
पहले वाक्य में विद्युत शक्ति को कल्पवृक्ष क्यों कहा गया है?

3. 
'तमसो मा ज्योतिर्गमय' उक्ति में ''तमसो'' का अर्थ है-

4. 
विद्युत शक्ति .......... बनकर आपकी सेवा में सतत् तत्पर रहती है-

5. 
निम्न में से निर्मल का विपरितार्थक शब्द है-

अनुच्छेद 04

भारत की प्रथम शिक्षा नीति 1968 ई. में लागू की गई थी। इसके बाद 1986 में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1968 के दोषों को दूर करने तथा भारतीय शिक्षा संरचना को दुरुस्त करने के लिए दूसरी शिक्षा नीति लागू की गई। 1986 के शिक्षा नीति के कमियों को दूर करने के लिए, पुनः 2020 में भारत सरकार के शिक्षा मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान जी, शिक्षा विभाग, भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित नई शिक्षा नीति को केन्द्रीय कैबिनेट ने अपनी स्वीकृति प्रदान की तथा मार्च 2022 से इसे सम्पूर्ण भारत में लागू किया जायेगा। नई शिक्षा नीति में, स्कूली शिक्षा को 5+3+3+4 फॉर्मूले के तहत पढ़ाया जायेगा इसके तहत पहले 5 साल में प्री-प्राईमरी के तीन साल और कक्षा 1 और कक्षा 2 के दो साल शामिल होगें, इसके बाद कक्षा 3 से 5 और कक्षा 6 से 8 के तीन-तीन साल होंगें तथा चौथे चरण कक्षा 9 से 12वीं तक 4 साल का होगा।

6. 
भारत में दूसरी शिक्षा नीति कब लागू की गई थी।

7. 
दूसरी शिक्षा नीति के कितने वर्षों के बाद सम्पूर्ण भारत में नई शिक्षा नीति लागू की जायेगी-

8. 
नई शिक्षा नीति में प्री-प्राइमरी शिक्षा कितने सालों की होगी-

9. 
भारत के शिक्षा मंत्री कौन हैं-

10. 
नई शिक्षा नीति में किस फॉर्मूले के तहत पढ़ाया जायेगा?

    Download Our Mobile App For better Preparation
    and access to our new Model Paper, Live Classes, Test Series And many more
    © 2024 Navodaya Study. All rights reserved.
    new chapter in Navodaya Entrance Exam. Types of angles and their simple applications. What to prepare.

    नवोदय प्रवेश परीक्षा में नये अध्याय का समावेश- कोण के प्रकार एवं उनका सरल अनुप्रयोग (Types Of Angle And Its Simple Applications) | क्या-क्या करें तैयारी ??

    कक्षा छठवीं के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा 2024–25 से नये सिलेबस में “कोण के प्रकार एवं उसके सरल [...]
    Read more